अनिवार्य प्रश्न
कोटेदार बना बाहुबली

कोटेदार बना बाहुबली

कोटेदार बना बाहुबली
यूनिट से कम बाँटता है खाद्यान्न
अनिवार्य प्रश्न के स्टिंग आपरेशन में हुआ खुलासा राशन कम देते और धमकाते दिखा कोटेदार


वाराणसी। विशेष संवाददाता


पिण्डरा विकास खण्ड अन्तर्गत मरुई गाँव का मामला
बेबस नागरिकों का हक मारकर खा जाता है कोटेदार
दबंग के खिलाफ कोई मुँह खोलने को तैयार नहीं
और खाद्य आपूर्ति अधिकारी को चाहिए गवाही
अनिवार्य प्रश्न अखबार के स्टिंग में पुख्ता मिला प्रमाण


वाराणसी। पिण्डरा विकास खण्ड अन्तर्गत मरुई गाँव का कोटेदार राशन वितरण में चोरी करते पकड़ा गया है। अनिवार्य प्रश्न समाचार पत्र नेटवर्क के एक स्टिंग आपरेशन में बेईमान कोटेदार राशन को कम बाँटते व गाँव के एक नागरिक को धमकाते दिख रहा है। स्टिंग में कोटेदार विवेक दूबे चार यूनिट के पात्र नागरिक को एक यूनिट काट कर सिर्फ 3 यूनिट में 15 किलो खाद्यान्न दे रहा है। नागरिक के पूछने पर घमंडी कोटेदार गुस्से में यह कह रहा है कि 3 यूनिट तक के लाभार्थियों को पात्रता के आधार पर राशन दिया जाएगा। लेकिन उससे ऊपर के यूनिट के पात्र लाभार्थी को एक यूनिट काट कर दिया जाएगा। जिसको जहाँ भी जाकर शिकायत करना हो कर ले। कोटेदार विवेक दूबे व उसका पिता रामफेर दूबे वीडियो में यह कहते साफ-साफ दिखे हैं कि ऊपर से सब ठीक नहीं आता है, जब सब ठीक आएगा तो हम भी देंगे। कोटेदार ने शासन स्तर पर हो रहे भ्रष्टाचार को अपनी बातों से प्रमाणित कर दिया है। इस बावत जब जिला आपूर्ति अधिकारी से पूछा गया तो सबूत व शिकायत माँगने लगे। जबकि अनभिज्ञ अधिकारी को इतना तो ज्ञान होना चाहिए कि प्रेस स्टिंग प्रकाशन से पहले सिर्फ बयान लेता है, साक्ष्य और शिकायत नहीं सौंपता। निष्क्रिय प्रशासन को देखते हुए अखबार समूह भी स्टिंग पर कार्यवाही नहीं होने पर अधिकारियों के खिलाफ प्रमाण लेकर कोर्ट जाएगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *