अनिवार्य प्रश्न
Mr. Chahal ordered sluggish officers to work

श्री चहल ने दिया सुस्त अधिकारियों को काम करने का आदेश


अनिवार्य प्रश्न। ब्यूरो संवाद


जिलाधिकरी ने दिया शुस्त अधिकारियों पर कड़ई के संकेत
सबको करना होगा आवश्वयक और मानक के अनुरुप समय पर कार्य


चन्दौली। विकास कार्यों की मासिक समीक्षा बैठक विकास भवन के सभागार कक्ष में संपन्न हुई। बैठक के दौरान जिलाधिकारी ने सड़कों के निर्माण व मरम्मत का कार्य समयबद्ध व गुणवत्तापूर्ण ढंग से पूरी कराने के निर्देश अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी को दिया। जनपद में निर्माणाधीन अवशेष सामुदायिक शौचालयों का निर्माण कार्य तेजी से करा लिए जाने के निर्देश जिला पंचायत राज अधिकारी को दिए। वहीं पंचायत भवनों का निर्माण कार्य पूरी गुणवत्ता के साथ समयान्तर्गत पूरा कराने व ग्राम पंचायत सचिवालयों को ऑप्टिकल फाइबर से जुड़वाने की कार्रवाई के निर्देश दिए। अधिशासी अभियंता जल निगम को निर्माणाधीन पेयजल योजनाओं में अपेक्षित प्रगति लाते हुए कार्य को समय से पूर्ण कराने के निर्देश दिये। नगर पालिका परिषद पं0 दीनदयाल उपाध्याय नगर में निर्माणाधीन पार्क साफ-सफाई, कूड़ा उठान एवं निस्तारण के समुचित प्रबंध के निर्देश अधिशासी अधिकारी पीडीडीयू नगर को दिए। जिला कृषि अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत किसानों को अपेक्षित लाभ दिलाने की कार्यवाही चलाते रहने के निर्देश दिए। इस बैठक की अध्यक्षता स्वयं जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल कर रहे थे।
जिलाधिकारी ने पंजीकृत श्रमिकों को श्रमिक कल्याण योजना से जुड़ी योजनाओं से लाभान्वित कराने के निर्देश श्रम प्रवर्तन अधिकारी को दिए साथ ही कहा कि श्रमिकों के हित में चलायी जा रही योजनाओं से उन्हें पूरी तरह लाभान्वित किया जाए। साथ ही उनको चिकित्सा से संबंधित, कन्या विवाह, शिशु लाभ योजना, श्रमिक बीमा योजना, अंत्येष्टि योजना आदि कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित किया जाय। जिलाधिकारी ने श्रम प्रवर्तन अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि एक सप्ताह के अंदर एक वार्ड का चयन कर उसमें पंजीकृत समस्त श्रमिकों को श्रमिक कल्याण से संबंधित समस्त योजनाओं से संतृप्त कराया जाए। उन्होंने समस्त निर्माण एजेंसियों के अधिकारियों एवं उपायुक्त मनरेगा को श्रमिक कल्याण योजनाओं से श्रमिकों को लाभ दिलाए जाने में सक्रिय सहयोग प्रदान कराए जाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जनपद के समस्त विकास खण्डों एवं नगरीय निकायों में कैंप लगाकर इन कल्याणकारी योजनाओं का प्रचार-प्रसार एवं श्रमिकों को लाभान्वित कराया जाना सुनिश्चित करें।

सख्ती दिखाते हुए श्री चहल ने कहा कि इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता हरगिज बर्दाश्त नहीं होगी। वे कौशल विकास मिशन के अंतर्गत युवाओं को समुचित प्रशिक्षण कराते हुए उन्हें अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। इसके लिए रोजगार मेले नियमित रूप से आयोजित किए जाने के निर्देश भी संबंधित अधिकारी को दिए। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत तत्परता से कार्य कराते हुए शादियों आयोजित कराए जाने के निर्देश जिला समाज कल्याण अधिकारी को दिए। अवशेष आंगनबाड़ी केंद्रों का निर्माण कार्य समय से पूर्ण कराते हुए संबंधित विभाग को हैंड ओवर करने के निर्देश ग्रामीण अभियंत्रण विभाग के अभियंता एवं डीसी मनरेगा को दिये। अति कुपोषित बच्चों के पोषण की समुचित कार्यवाही करने के निर्देश जिला कार्यक्रम अधिकारी को दिए।

आवश्यकतानुसार अति कुपोषित बच्चों को पोषण पुनर्वास केंद्र में भर्ती कराने के निर्देश भी दिए। निराश्रित पशु किसी भी हालत में बाहर घूमते न मिले उन्हें पकड़कर पशु आश्रय स्थलों में रखा जाए पशु आश्रय स्थलों में पशुओं के लिए पर्याप्त मात्रा में चारा-पानी, चिकित्सकीय उपचार के साथ ही जाड़े की दृष्टिगत पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित हो इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही शिथिलता बर्दाश्त नहीं की जाएगी। साथ ही वे पशुओं का शत-प्रतिशत टीकाकरण करा लिए जाने के निर्देश पशु चिकित्साधिकारी को दिए।
श्री चहल ने बैठक के दौरान जिला स्तरीय समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि आईजीआरएस पोर्टल, सीएम हेल्पलाइन से संबंधित शिकायतों का निस्तारण गुणवत्तापूर्ण ढंग से सुनिश्चित हो, डिफाल्टर श्रेणी में कोई शिकायतें नहीं आनी चाहिए। लंबित शिकायतों का फौरन निस्तारण कर लिया जाए। जिलाधिकारी ने सेतु निगम के अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि जनपद में निर्माणाधीन सेतु के निर्माण कार्य में तेजी लाई जाए। निर्माण कार्य गुणवत्तापूर्ण हो, श्री चहल ने समय-सीमा का ध्यान रखने के लिए भी कहा। प्रधानमंत्री ग्राम स्वरोजगार योजना एवं मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना के अंतर्गत लंबित आवेदन पत्रों का निस्तारण कर योजना में अपेक्षित प्रगति लाने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिए।

बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी डॉ अभय कुमार श्रीवास्तव, मुख्य चिकित्सा अधिकारी, जिला विकास अधिकारी, परियोजना अधिकारी, डीसी मनरेगा, डीसी एनआरएलएम, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी, अधिशासी अभियंता पीडब्ल्यूडी, जिला पंचायत राज अधिकारी, जिला समाज कल्याण अधिकारी सहित संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *