अनिवार्य प्रश्न

देश भर के ट्रेडर्स से राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र ने किया संवाद


अनिवार्य प्रश्न । ब्यूरो संवाद


राज्यपाल ने समस्याएं सुनी और कहा जल्द कराया जाएगा निराकरण
कोविड से लाइफ स्टाइल बदली, नई तकनीक से करें व्यापार


जयपुर। केन्द्र सरकार द्वारा घोषित आर्थिक पैकेज में व्यापार को बढाने के लिए बहुत सुविधाएं दी हैं। व्यापारी उनका लाभ उठायें। मुद्रा योजना की शिशु, किशोर व तरूण योजना में व्यापारी आसानी से ऋण ले सकते हैं। राजस्थान के राज्यपाल श्री कलराज मिश्र ने अपने एक संबोधन में कहा है कि कोविड-19 से लाइफ स्टाइल बदल गई है। अब व्यापार में आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करना होगा। उन्होंने कहा कि मैंने सभी की समस्याएं सुन ली है। इनके निराकरण के लिए मेरे द्वारा केन्द्र व राज्य सरकार को व्यापारियों की समस्याएं भेज दी जाएँगी।

राज्यपाल श्री मिश्र ने बुधवार को यहां राजभवन से वीडियो कॉन्फ्रेस के माध्यम से देशभर के व्यापारियों से संवाद किया। इस कान्फे्रन्स का आयोजन कॉन्फेडेरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) द्वारा किया गया। श्री मिश्र ने आगे कहा कि कोरोना वैश्विक महामारी से सभी लोग प्रभावित हुए है। लोगों के मन में भय है। पर संकट की इस घडी में हमें घबराना नही है। आपसी संवाद की प्रक्रिया आत्मविश्वास जागृत करने का सशक्त माध्यम है। इस महामारी से उद्योग, शिक्षा सहित सभी क्षेत्र प्रभावित हुए है। छोटे व्यापारी अधिक प्रभावित हुए है। केन्द्र सरकार ने सभी को राहत देने के लिए आर्थिक पैकेज दिया है। इससे सभी लोग लाभान्वित होंगे। सभी लोग धीरज रखें। नये सिरे से वित्तीय प्रबन्धन करें। धीरे-धीरे कोरोना के भय को मन से निकालें। सकारात्मक सोच रखेंगे तो समस्याओं का समाधान भी शीघ्र ही हो जायेगा।

वीडियो कान्फ्रेन्स में कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बी. सी. बरतिया ने देश के सात करोड व्यापारियों की ओर से राज्यपाल श्री मिश्र का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि व्यापारियों को आत्म निर्भर बनाने के लिए स्वदेशी अभियान का शुभारम्भ किया है। महिलाओं को अर्थव्यवस्था की मुख्य धारा से जोडा जा रहा है। महासचिव श्री प्रवीण खण्डेलवाल ने बताया कि स्वदेशी पोर्टल ‘‘ भारत ई मार्केट‘‘ शुरू किया गया है। अब व्यापार को ऑन लाइन किया जा रहा है। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्री सत्य भूषण जैन ने आभार व्यक्त किया।

इस मौके पर राज्यपाल को देशभर के व्यापारियों ने अपनी समस्याएं बताईं। जयपुर की श्रीमती सीमा सेठी ने महिलाओं के लिए बैंक ऋण सुविधा को आसान बनाने की जरूरत बताई। लखनऊ के श्री संजय गुप्ता ने व्यापारियों को राहत दिलाने को आग्रह किया । जोधपुर के श्री प्रसन्न मेहता ने स्वदेशी भावना से कार्य करने का आश्वासन दिया। मुम्बई के नितिन केडिया ने नई तकनीक से कार्य करने की जरूरत जताई। आसाम के व्यापारियों ने व्यापारी हब बनाने की आवश्यकता प्रतिपादित की।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *