अनिवार्य प्रश्न
Continuous monitoring of state roads Will be online via tagging

प्रदेश की सड़कों की सतत मॉनीटरिंग जी.आर. टैगिंग के माध्यम से ऑनलाइन होगी


अनिवार्य प्रश्न । संवाद


भोपाल।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में सड़कों के अच्छे संधारण के लिए ‘असैट मैनेजमेंट सिस्टम’ लागू किया जाएगा। इसके अंतर्गत प्रदेश की सड़कों की स्थिति की जी.आर. टैगिंग के माध्यम से ऑनलाइन मॉनीटरिंग हो सकेगी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश की सड़कों की सतत मॉनीटरिंग की जाए तथा खराब होने से पहले ही सड़कों की मरम्मत हो जाए। प्रदेश की सभी सड़कें उच्च गुणवत्ता की होनी चाहिएं। प्रदेश की 45,717 कि.मी. सड़कों का संधारण लोक निर्माण विभाग द्वारा तथा 18801 कि.मी. सड़कों का संधारण एम.पी.आर.डी.सी. द्वारा किया जाता है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान आज मंत्रालय में लोक निर्माण विभाग के कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव, राज्य मंत्री लोक निर्माण विभाग श्री सुरेश धाकड़, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, प्रमुख सचिव श्री मनोज गोविल, प्रमुख सचिव श्री नीरज मंडलोई आदि उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *