बेसहारा बच्चों ने प्रार्थना कर मनाई ईद


अनिवार्य प्रश्न । संवाद


कानपुर। हिंदू-मुस्लिम भाईचारे को बढ़ाने के उद्देश्य से अनाथ बेसहारा बच्चों में ईद की खुशी बांटी गई। प्रेम व सौहार्द बढाने के उद्देश्य से नगर स्थित सुभाष चिल्ड्रन होम के अनाथ बेसहारा बच्चों के बीच ईद मिलन कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें बच्चों को धार्मिक प्रेमभाव एवं सौहार्द बढ़ाने हेतु ईद पर्व पर मिलजुलकर साथ जीने की सीख दी गई। कार्यक्रम में बच्चों को ईद के महत्व के बारे में भी बताया गया।

बच्चों के साथ चिल्ड्रन होम के कार्यकर्ता भी इद मिलन कार्यक्रम में शरीक हुए और बच्चों के साथ सेवई खाए। कार्यक्रम के दौरान बच्चों को बताया गया कि ईद का पर्व भाईचारे का पर्व है। हम सभी इस दिन एक दूसरे से गले मिलकर लोगों को ईद की मुबारकबाद देते हैं। साथ ही अतिथियों ने कहा कि हमें अपने जीवन में आपसी प्रेम एवं सौहार्द बना कर रहना चाहिए।

उक्त कार्यक्रम में अनाथ व बेसहारा बच्चों में दूध वाली सेवई, सूखी सेवई, चने पकोड़े दही बड़े आदमी का वितरण किया गया। यहां मुख्य रूप से अपने घरों से बिछड़े अनाथ छोड़े हुए बच्चे जो नगर स्थित सुभाष चिल्ड्रन होम में रह रहे हैं उपस्थित रहे। चिल्ड्रन होम के प्रबंधक कमल कांत तिवारी ने पत्रकारों को भेजे गए अपने संदेश में बताया कि इन बच्चों के साथ हमारे द्वारा सभी राष्ट्रीय एवं धार्मिक पर्व को मनाया जाता है ताकि यह पर्व के महत्व को समझते हुए जीवन में अनुशासन रखें। इस अवसर पर सुभाष चिल्ड्रन होम के प्रबंधक श्री तिवारी, विशेष दत्तक ग्रहण इकाई की अधीक्षिका आशा सचान, अधीक्षिका संजुला पांडे, सामाजिक कार्यकत्री अनीता तिवारी, आशा सचान, गौरव सचान, पम्मी, अनीता, सरोज, ज्योति, गीता, मुन्नी एवं बुधराम आदि गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.