अनिवार्य प्रश्न
Almost all varieties of pure honey available in Shivpur

शुद्ध शहद की लगभग सभी वैरायटी शिवपुर में उपलब्ध


अनिवार्य प्रश्न। ब्यूरो संवाद।


वाराणसी। शहद की उपयोगिता एवं महत्त्व से हम सभी लोग भलीभांति परिचित हैं लेकिन आज के समय में शुद्ध एवं गुणवत्ता युक्त शहद की उपलब्धता बहुत ही कम है। खासकर जैसे तुलसी, अजवाइन, सरसों, यूकेलिप्टस, बेल इत्यादि के गुणों वाली शहद की उपलब्धता और इसकी जानकारी आम जनमानस को बहुत ही कम है। ऐसे में शहद की इन विभिन्नता एवं गुणों को को आमजन तक पहुंचाने एवं उनको परिचित कराने के लिए बरसठी जौनपुर निवासी किसान यादवेंद्र मौर्य ने वाराणसी के शिवपुर में आयुवर्धिनी नेचुरल हनी प्रतिष्ठान का शुभारंभ किया। वह शहद उत्पादन का कार्य स्वयं करते हैं। इसके लिए उन्होंने अपने गांव पर एक छोटा सा साथ उत्पादन एवं प्रसंस्करण के लिए एक कार्यशाला बना रखा है और उनके पास लगभग 1000 मधुमक्खी के बॉक्स से जिनसे यह विभिन्न प्रकार के शहद तैयार करते हैं।

प्रतिष्ठान के उद्घाटन के दौरान मुख्य अतिथि पिंडरा विधानसभा के विधायक डॉ. अवधेश कुमार सिंह ने इनके प्रतिष्ठान का अवलोकन किया और इनके इस कार्य की सराहना की। इस दौरान डॉ. सिंह कहा कि आज के समय में जब हम को स्वस्थ रहने के लिए पोषण की आवश्यकता है। शहद में इतनी विभिन्नता के साथ औषधीय गुणों का समावेश हो तो इसे हमें अपने रोज के आहार मैं सम्मिलित करने की आवश्यकता है।

इस अवसर पर विशिष्ट अतिथियों के रूप में कृषि विज्ञान केंद्र कल्लीपुर वाराणसी के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ नरेंद्र रघुवंशी, जिला उद्यान अधिकारी संदीप कुमार गुप्ता, डॉ संत कुमार सिंह प्राचार्य उदय प्रताप कॉलेज, एस एम पी पटेल, सेवानिवृत्त जिला उद्यान अधिकारी, डॉ नरेंद्र प्रताप, डॉ संदीप कुमार, डॉ अमित कुमार एवं कृषक हौसला प्रसाद, योगेंद्र प्रताप मौर्य, आकाश, ध्रुव कुमार, विक्रमा प्रसाद एवं महिला कृषक उद्यमी भगवानी देवी जो कि मधुमक्खी पालन का कार्य कर रही हैं उपस्थित थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *