अनिवार्य प्रश्न
Arrangements were made for the stay of relatives of cancer patients who came for Varanasi treatment from outside

बाहर से वाराणसी उपचार के लिए आए कैंसर मरीजों के परिजनों के ठहरने की सिकरौल में की गई व्यवस्था


अनिवार्य प्रश्न। ब्यूरो संवाद


वाराणसी। अब-तक बाहर से आए कैंसर मरीजों के परिजनों को शहर में ठहरने के लिए बहुत परेसानियों का सामना करना पड़ता था। अब सिकरौल में उनके ठहरने की निःशुल्क व्यवस्था की गई है। अक्सर देखा जाता था कि जनपद में संचालित टाटा मेमोरियल कैंसर हॉस्पिटल व बी.एच.यू. में देश के कोने-कोने से आने वाले गरीब परिवार, जिनके बच्चे कैंसर से पीड़ित हैं, उनके उपचार के दौरान परिवारीजन पैसे के अभाव में सड़कों और फुटपाथ के ऊपर किसी प्रकार से रह कर अपने बच्चों की देखभाल करते थे। अब-तक उचित आश्रय नहीं होने के कारण इन परिवारजनों को उपचार के दौरान ठहरने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता था।

इसे ध्यान में रखते हुए वाराणसी नगर आयुक्त गौरांग राठी ने अनूठी पहल की है। नगर आयुक्त ने टाटा मेमोरियल कैंसर हॉस्पिटल प्रशासन से समन्वय स्थापित कर इन पीडित परिवारों के लिए ठहरने की निशुल्क व्यवस्था सुनिश्चित कराई है। इसके लिए वाराणसी नगर निगम, टाटा मेमोरियल कैंसर हॉस्पिटल व रचना फाउंडेशन के मध्य 14 अक्टूबर 2020 को आयुक्त कार्यालय में आयुक्त वाराणसी मंडल दीपक अग्रवाल की उपस्थिति में त्रिपक्षीय अनुबंध किया गया। वाराणसी नगर निगम की ओर से नगर आयुक्त गौरांग राठी, टाटा मेमोरियल कैंसर हॉस्पिटल की ओर से निदेशक डॉ सत्यजीत प्रधान एवं रचना फाउंडेशन की ओर से आर के यादव द्वारा अनुबंध पर हस्ताक्षर किया गया।

अनुबंध के अनुसार सिकरौल स्थित तीन मंजिले आश्रय स्थल में प्रथम तल को छोड़कर द्वितीय व तृतीय तल पर ऐसे परिवारजन निःशुल्क रूप से रह सकेंगे, जिनके बच्चों का उपचार टाटा मेमोरियल कैंसर हॉस्पिटल में चल रहा है। उल्लेखनीय है कि अभी तक इस आश्रय स्थल का उपयोग नगर निगम द्वारा नगरीय क्षेत्र में रहने वाले निराश्रित लोगों के लिए किया जाता रहा है। अब आगे से इस तीन मंजिले आश्रय स्थल के प्रथम तल पर नगर निगम द्वारा नगरीय निराश्रितों को आश्रय दिया जाएगा तथा द्वितीय एवं तृतीय तल पर टाटा मेमोरियल कैंसर हॉस्पिटल में उपचार करा रहे बच्चों के परिजनों को रहने के लिए स्थान प्राप्त हो सकेगा।

इस तीन मंजिला आश्रय स्थल के प्रथम तल की देखभाल की जिम्मेदारी रचना फाउंडेशन के ऊपर होगी, शेष द्वितीय एवं तृतीय तल का मेंटेनेंस टाटा मेमोरियल कैंसर हास्पिटल द्वारा किया जायेगा। इस तीन मंजिले भवन में कुल 50 निराश्रित के रहने की व्यवस्था है, जिसमें से प्रथम तल पर 20 बेड, द्वितीय तल पर 20 बेड और तृतीय तल पर 10 बेट की उपलब्धता है। इस प्रकार प्रथम तल पर नगर के 20 निराश्रित रह सकते हैं तथा द्वितीय और तृतीय तल पर उपचार करा रहे बच्चों के 30 सदस्य आसानी से निवास कर पाएँगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat