अनिवार्य प्रश्न
Director General of Library Foundation Kolkata inspected the Government District Library Varanasi and its new building

लाइब्रेरी फाउण्डेशन कोलकता के महानिदेशक ने राजकीय जिला पुस्तकालय वाराणसी व उसके नवीन भवन का किया निरीक्षण


अनिवार्य प्रश्न । ब्यूरो संवाद


वाराणसी। 31 जुलाई 2020 को राजा राममोहन राय लाइब्रेरी फाउण्डेशन कोलकता के महानिदेशक अजय प्रताप सिंह ने अपने वाराणसी दौरे पर शहर स्थित राजकीय जिला पुस्तकालय के नवीन भवन, पुस्तकालय के सभागार, बाल कक्ष एवं वरिष्ठ नागरिक कक्ष का निरीक्षण किया। महानिदेशक ने निर्माण एजेंसी यू पी सिडको वाराणसी के अधिशासी अभियंता को निर्देशित किया कि नवीन भवन का निर्माण मानक एवं विधिनुरुप निधारित समय में पूर्ण कराया जाय। भवन निर्माण में गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जाय।

निरीक्षण के दौरान उन्होंने पुस्तकालय के सभी विभाग देखे और राजकीय पुस्तकालय के अध्यक्ष कंचन सिंह परिहार द्वारा किये गए प्रयासों की सराहना की साथ ही फाउण्डेशन की ओर से योजनाबद्ध हर सम्भव मदद का आस्वाशन भी दिया। श्री सिंह ने फाउण्डेशन द्वारा मैचिंग एवं नॉन मैचिंग योजनाओं की विस्तार से जानकारी देते हुए उपस्थित सभी पदाधिकारियों को शासन की मंशा से अवगत कराया।

आगे उन्होंने यह भी कहा कि पाठकों की जरूरत के अनुरूप उपयोगी एवं प्रतियोगी पुस्तकें पुस्तकालय को जल्द उपलभ्ध कराई जयेंगी तथा बदलते परिवेश में पुस्तकालय को डिजिटल लाइब्रेरी के रूप में भी परिवर्तित करने का काम भी शीघ्र किया जाएगा। महानिदेशक श्री सिंह ने देश के अन्य विकसित राज्यों की भांति सार्वजनिक पुस्तकालय तंत्र की संरचना उत्तर प्रदेश के समस्त जनपदों में ग्रामीण, ब्लाक व तहसील स्तर तक विकसित कि जाने की बात कही। इस संदर्भ में उन्होंने सबको बताया कि इसकी शुरुआत माननीय प्रधानमंत्री जी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी से करने का प्रयास किया जा रहा है।

उन्होंने उत्तर प्रदेश सार्वजनिक पुस्तकालय अधिनियम-2006 के कुछ प्राविधानों को संसोधित कराने पर भी चर्चा की, ताकि अधिनियम व पुस्तकालय सेवा के रूप में उसका वास्तविक लाभ समाज के अंतिम व्यक्ति तक पहुंच सके।

उक्त अवसर पर जिला विद्यालय निरीक्षक डॉ0 विजय प्रकाश सिंह, जिला पुस्तकालय अध्यक्ष के. एस. परिहार एवं यू. पी. सिडको के अधिशासी अभियंता अनिरुद्ध प्रसाद उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

WhatsApp chat