अनिवार्य प्रश्न
Father and son going to join Raghunathpur Tilak died due to felling of trees

नहीं रहे काशी के डोम राजा, गृह मंत्री ने दी श्रद्धांजलि


अनिवार्य प्रश्न। ब्यूरो संवाद


वाराणसी।  काशी के डोम राजा नहीं रहे। काशी नरेश और काशी के डोम राजा का भारतीय संस्कृति में महत्वपूर्ण स्थान है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार राजा हरिशचन्द्र ने स्वयं को कालू डोम को बेच दिया था। उसके बाद से वाराणसी मे डोम समुदाय का प्रमुख डोम राजा कहलाताहै।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरी बार वाराणसी से लोकसभा चुनाव के लिए नामांकन के प्रस्तावकों मे डोम राजा श्री जगदीश चौधरी भी शामिल थे।

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने काशी के डोम राजा श्री जगदीश चौधरी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। एक ट्वीट में श्री अमित शाह ने कहा कि “काशी के डोम राजा का पद भारतीय संस्कृति में व्याप्त विविधता, व्यापकता और सामाजिक समरसता का प्रतीक है। बाबा विश्वनाथ के ऐसे सच्चे उपासक डोम राजा श्री जगदीश चौधरी जी का स्वर्गवास अत्यंत दुःखद है। उनका निधन सनातन परंपरा और भारतीय समाज के लिए एक अपूरणीय क्षति है”।

अमित शाह ने कहा कि “डोम राजा सनातन संस्कृति की सबसे अभिन्न कड़ी हैं जो अपनी अग्नि से लोगों को मोक्ष का द्वार दिखाते हैं। बाबा विश्वनाथ से प्रार्थना है कि डोम राजा श्री जगदीश चौधरी जी को अपने श्री चरणों में स्थान दें और उनके परिजनों को यह दुख सहने की शक्ति प्रदान करें।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *