अनिवार्य प्रश्न
The law made to stop conversion was' U.P. Demands to implement law against religion conversion prohibition law 2020 'by force

धर्मांतरण रोकने हेतु बनाया गया कानून ‘उ.प्र. विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध कानून 2020’ को शख्ती से लागू करने की उठी मांग


अनिवार्य प्रश्न। संवाद


वाराणसी। 21 मार्च 2021 को माँ गंगा की गोद में बजड़े पर आयोजित हिन्दू जागरण मंच काशी महानगर की बैठक में पारित प्रस्तावों को अवनीश राय के नेतृत्व में एक प्रनिधिमण्डल ने मिलकर ज्ञापन के माध्यम से स्थानीय जिलाधिकारी से लव जिहाद एवं धर्मांतरण रोकने हेतु बनाये गए कानून उ.प्र. विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध कानून 2020 को शक्ति से लागू करने की मांग की।

संगठन द्वारा बैठक में पारित प्रस्तावों में लव जिहाद एवं धर्मांतरण रोकने हेतु बनाये गए कानून उ.प्र. विधि विरुद्ध धर्म संपरिवर्तन प्रतिषेध कानून 2020 को शख्ती से लागू करने के लिए सभी जिलों के जिलाधिकारियों सहित वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किये जाने की मांग की गई। साथ ही जनपद वाराणसी को अयोध्या की भांति पवित्र शहर घोषित करने एवं काशी परिक्षेत्र के भीतर मांस मदिरा की दुकानों को प्रतिबंधित करने की भी आवाज उठाई गई।

मंच ने मांग करते हुए कहा कि पंचकोशी मार्ग पर पड़ने वाली धर्मशालाओं को अतिक्रमण मुक्त करते हुए यात्रियों को मूलभूत मानवीय सुविधाओं की सुविधा उपलब्ध कराया जाये व माननीय उच्चतम तथा उच्च न्यायालय द्वारा लाऊड स्पीकर को इस्लाम का अंग न बताये जाने तथा लाऊड स्पीकर द्वारा अजान को प्रतिबंधित किये जाने के आदेश को शख्ती से पालन कराया जाए।

इस अवसर पर प्रतिनिधि मण्डल में अवनीश राय, उपाध्यक्ष द्वय हनुमंत सिंह व राजन मांझी, महामंत्री अनुराग पांडेय, मंत्री विकास तिवारी सहित हिन्दू जागरण मंच काशी महानगर के अनेक कार्यकर्ता मौजूद रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *