अनिवार्य प्रश्न
Approval of acquisition of Tata Communications Limited by Panatone Finvest Limited

पैनाटोन फिनवेस्ट लिमिटेड द्वारा टाटा कम्युनिकेशंस लिमिटेड के अधिग्रहण को मंजूरी


अनिवार्य प्रश्न। संवाद


नई दिल्ली। भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) ने आज प्रतिस्पर्धा अधिनियम, 2002 की धारा 31 (1) के तहत पैनाटोन फिनवेस्ट लिमिटेड (अधिग्राहक) द्वारा टाटा कम्युनिकेशंस लिमिटेड (“टीसीएल”) का अधिग्रहण करने की मंजूरी दी है। इस प्रस्तावित समायोजन में अधिग्रहणकर्ता द्वारा लक्ष्य (प्रस्तावित समायोजन) में अधिकतम 26.12 प्रतिशत शेयर होल्डिंग के प्रस्तावित अधिग्रहण पर विचार किया गया है। इस प्रस्तावित संयोजन के परिणामस्वरूप अधिग्राहक समूह/टाटा समूह अपनी शेयरहोल्डिंग को 48.87 प्रतिशत से बढ़ाकर अधिकतम 74.99 प्रतिशत कर सकेगा।

अधिग्राहक भारतीय रिजर्व बैंक के साथ पंजीकृत प्रणालीबद्ध रूप से महत्वपूर्ण एक नॉन-डिपोजिट टेकिंग कोर इन्वेस्टमेंट कंपनी (‘सीआईसी-एनडी-एसआई’) है। यह टाटा संस की सहायक कंपनी है और टाटा समूह से संबंधित है। टीसीएल टाटा समूह का हिस्सा है और एकीकृत संचार सेवाओं की व्यापक श्रृंखला का एक सुविधा-आधारित सेवा प्रदाता है। यह तीन व्यापार घटकों– होलसेल वायस, उद्यम एवं कैरियर डेटा और अन्य व्यवसाय से राजस्व जुटाता है।

उल्लेखनीय है कि टीसीएल अपनी सहायक कंपनियों के माध्यम से प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से निम्नलिखित गतिविधियों में संलग्न है -:

  1. अंतर्राष्ट्रीय लंबी दूरी की सेवाएं (“आईएलडी”) – वायस
  2. राष्ट्रीय लंबी दूरी की सेवाएं (“एनएलडी”) – वायस
  3. समुद्र के नीचे केबल प्रणालियां (“यूसीएस”)
  4. इंटरनेट सेवा प्रदाता (“आईएसपी”), कनेक्टिविटी, संदेश, इंटरनेट टेलीफोनी सेवा प्रदान करना; तथा
  5. मूल्य संबर्द्धन से वाएं प्रदान करने वाला उद्यम व्यवसाय सीसीआई कहा गया है कि इस संबन्ध में विस्तृत आदेश बाद में आएगा|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *